Tuesday , October 17 2017 3:02 AM
Breaking News
Home / Breaking News / राष्ट्रपिता महात्मा गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री जी की जयंती सपा मुख्यालय, लखनऊ में सादगी से मनाई गई

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री जी की जयंती सपा मुख्यालय, लखनऊ में सादगी से मनाई गई

अर्ली न्यूज़/लखनऊ।राष्ट्रपिता महात्मा गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री जी की जयंती आज समाजवादी पार्टी मुख्यालय, लखनऊ में सादगी से मनाई गई। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने श्रद्धा सुमन अर्पित करते हुए कहा कि गांधी जी ने सत्य-अहिंसा के साथ ग्राम स्वराज का मंत्र दिया था। सन् 2019 में उनके सपने का भारत बनाने के लिए सभी समाजवादी साथियों को संकल्प लेना होगा। जो ताकतें देश तोड़ने, समाज को बांटने और एकाधिकारी को बढ़ावा दे रही हैं, उन पर अंकुश लगाने की जिम्मेदारी समाजवादियों पर ही है।
श्री यादव ने कहा कि गांधी जी के रास्ते पर चलते हुए पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री ने जय जवान, जय किसान का नारा दिया था। देश की रक्षा में किसान का बेटा ही सीमाओं पर लड़ता है। गांधी जी ने गांव-किसान केन्द्रित व्यवस्था अपनाने पर जोर दिया था। उन्होंने गांवों को आत्म निर्भर बनाने, सŸाा के विकेन्द्रीकरण और श्रम शक्ति को सम्मान देने की बात कही थी। आज की राजनीति में विचारों का अधूरापन मिलता है। सत्य को ढ़ूँढ़ना पड़ता है। अहिंसा की जगह असहिष्णुता और हिंसा का बोलबाला है।
अखिलेश यादव ने कहा कि कुछ ताकतें देश में नफरत फैलाने में लगी है। भारत की आजादी की लड़ाई में ऐसी ताकतें शामिल नहीं थी। उनके पास भ्रम फैलाने के अलावा कोई काम नहीं है। आजादी की लड़ाई में हिन्दू-मुसलमान, सिख-ईसाई सभी शामिल थे। सबका साथ लिए बिना कैसे देश की बुनियाद मजबूत हो सकती हैं? देश की एकता धर्म निरपेक्षता पर टिकी हैं। अगर हमने गांधी जी के बताए रास्ते को अपनाने में चूक की तो राष्ट्रीय एकता अखंडता कैसे बचेगी? ग्रामीण अर्थव्यवस्था कैसे विकसित होगी?
पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि स्वच्छता का ढोल पीटने से कुछ नहीं होगा। हमें मन की स्वच्छता पर भी जोर देना होगा। दिल के जहर को मिटाना होगा। मन स्वच्छ नहीं होगा, परस्पर प्रेम सौहार्द नहीं होगा, ईमानदारी नहीं होगी तो अंधकार कैसे दूर होगा? श्री यादव ने कहा कि नोटबंदी और जीएसटी से जन सामान्य बेहाल है। इससे भ्रष्टाचार के खात्मे को दावा हास्यास्पद है। इसकी वजह से कारोबार ठप्प हैं। रोजगार के अवसर समाप्त है। व्यापार जगत क्षुब्ध है। डिजिटल इण्डिया की बात हो रही है पर यह स्पष्ट नहीं है कि देश में खुशहाली और तरक्की लाने के लिए कौन रास्ता अपनाया जाएगा? समाजवादी सरकार ने आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस सड़क बनाई, बिजली उत्पादन बढ़ाया। यूपी 100, एम्बूलेंस 108,102, वूमेनपावर लाईन 1090 तथा मेट्रो की शुरूआत की। भाजपा ने इन सबको बर्बाद करने का काम किया है।
पूर्व मुख्यमंत्री जी ने कहा कि देश के समक्ष दो विचार हैं। गांधी जी की विचारधारा सबको साथ लेकर चलने, समाज के सबसे कमजोर आदमी की हित चिंता करने और नियोजन को जनकल्याणकारी तथा ग्राम केन्द्रित बनाने पर जोर देती है। समाजवादी पार्टी राष्ट्र पिता के विचारों के अनुरूप नीति-कार्यक्रम बनाकर चलती हैं दूसरी तरफ भाजपा की विचारधारा है जो समाज के भाई चारे के लिए खतरा है। भाजपा नफरत के बीज बो रही है और उसी नफरत की फसल काटना चाहती हैं हमें खुद भी इससे सावधान रहते हुए जनता के बीच उनकी साजिशों को बताने का काम करना चाहिए।
अखिलेश यादव ने कहा कि गांधी जी के देष में अल्पसंख्यकों का दहशत में होना दुर्भाग्यपूर्ण है। भाजपा सरकार ने पुलिस प्रशासन और संघ कार्यकर्ताओं को खुली छूट दे दी है कि वे अल्पसंख्यकों को अपनी सनक की शिकार बनाए। संविधान की धज्जियां उड़ाई जा रही हैं। कानून का राज मजाक बन गया है। उन्होंने कहा कि राज्य में इधर सांप्रदायिकता की आग में एक दर्जन जनपदों में आगजनी, तोड़फोड़ की घटनाएं घटी हैं। समाजवादी पार्टी प्रशासन का मूक दर्शक बने रहना खतरनाक मानती है।
इस अवसर पर पूर्व मंत्री अहमद हसन, राजेंद्र चौधरी पूर्व सांसद राम सिंह शाक्य, विधायक एसआरएस यादव, संग्राम सिंह, सुनील यादव ‘साजन‘ डा0 राजपाल कश्यप, राम वृक्ष यादव, राजेश यादव, अरविन्द कुमार सिंह, पूर्वमंत्री पवन पाण्डेय तथा रामआसरे कुशवाहा, विकास यादव, दिग्विजय सिंह ‘देव‘, राहुल सिंह, ऋचा सिंह आदि की उपस्थिति विशेष रूप से उल्लेखनीय है।

About Anand Gopal Chaturvedi

Group Editor / CMD Early News Group

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*