Saturday , October 20 2018 7:01 PM
Breaking News

ये हैं सबसे ज्यादा एक्सपोर्ट होने वाली कारें

अप्रैल महीने की सेल्स रिपोर्ट्स आ चुकी हैं, इस रिपोर्ट में हम आपको उन कारों के बारे में बता रहे हैं जो सबसे ज्यादा एक्सपोर्ट हुईं हैं, इनमें से कुछ गाड़ियां ऐसी भी हैं जो हिंदुस्तान में कम बिकती है लेकिन एक्सपोर्ट के मामले में अव्वल हैं. आइये जानते हैं इन गाड़ियों के बारे में

Image result for ये हैं सबसे ज्यादा एक्सपोर्ट होने वाली कारें

1. फोक्सवैगन वेंटो: एक्सपोर्ट के मामले में फोक्सवैगन सबसे ऊपर है. कंपनी ने अप्रैल (2018) महीने में हिंदुस्तान से 8,099 कारों को एक्सपोर्ट किया जबकि पिछले वर्ष की समान अवधि में यह आंकड़ा 7,667 यूनिट्स का रहा था.

2. जनरल मोटर्स बीट: जनरल मोटर्स अब हिंदुस्तान के लिए कारें नहीं बनाती, लेकिन कंपनी राष्ट्र में कारें बनाकर उन्हें एक्सपोर्ट अभी भी कर रही है. एक्सपोर्ट के मामले में यह दूसरे नंबर पर है, इस वर्ष अप्रैल महीने में कंपनी ने 7,294 बीट को एक्सपोर्ट किया जबकि पिछले वर्ष की समान अवधि में यह आंकड़ा 7,667 यूनिट्स का रहा था.

3. फोर्ड इकोस्पोर्ट:हालांकि हिंदुस्तान में फोर्ड अभी भी एक बड़े मुकाम को हासिल की पूरी प्रयास कर रही है. लेकिन एक्सपोर्ट के मामले में यह राष्ट्र की बड़ी कार कंपनियों से भी आगे है, इस समय एक्सपोर्ट के मामले में यह तीसरे नंबर पर है. कंपनी ने इस वर्ष अप्रैल में 7,280 इकोस्पोर्ट को एक्सपोर्ट किया जबकि पिछले वर्ष यही आंकड़ा 7,812 कारों का रहा था.

4. हुंडई ग्रैंड आई 10: देश की दूसरी सबसे बड़ी कार कंपनी हुंडई हिंदुस्तान से अपनी कई कारों को एक्सपोर्ट करती है, ने अप्रैल महीने में ग्रैंड i10 की 4,309 यूनिट्स एक्सपोर्ट की थी जबकि पिछले वर्ष समान अवधि में यह आंकड़ा 3,278 कारों का रहा था.

5. हुंडई क्रेटा: पांचवे नंबर पर हुंडई की ही क्रेटा रही, कंपनी ने अप्रैल महीने में क्रेटा की 3,483 यूनिट्स एक्सपोर्ट की थी जबकि पिछले वर्ष यह आंकड़ा 4,332 कारों का रहा था.

6. हुंडई आई 20: एक्सपोर्ट के मामले में हुंडई सबसे आगे है, छठे नंबर पर कंपनी की आई 20 रही, कंपनी ने इस कार की 1,962 यूनिट्स को एक्सपोर्ट किया जबकि पिछले वर्ष इसी महीने में यह आंकड़ा 1,212 कारों का था.

7. मारुति बलेनो: एक्सपोर्ट के मामले में सातवें नंबर है, अप्रैल महीने में कंपनी ने 1,928 बलेनो को एक्सपोर्ट किया था जबकि पिछले वर्ष कंपनी सिर्फ 1,905 कारों को हे एक्सपोर्ट कर सकी.

8. हुंडई एक्ससेंट: एक बार फिर 8वें नंबर पर हुंडई रही, कंपनी ने अप्रैल महीने में 1,786 एक्सेंट को एक्सपोर्ट किया जबकि पिछले वर्ष यह आंकड़ा 1,849 यूनिट्स का रहा था.

9. फोक्सवैगन पोलो: अप्रैल महीने में फोक्सवैगन ने पोलो की 1,609 कारों को एक्सपोर्ट किया जबकि पिछले वर्ष इसी महीने में यह आंकड़ा 1,849 कारों का रहा था.

10. मारुति इग्निश: अब आखिर में 10वें नंबर पर मारुति सुजुकी की इग्निश रही, कंपनी ने अप्रैल में 1,595 कारें एक्सपोर्ट की जबकि पिछले वर्ष यह आंकड़ा 1,772 कारों का रहा था.

About Anand Gopal Chaturvedi

Group Editor / CMD Early News Group

Check Also

60 के दशक की बाइक जावा एक बार फिर सड़कों पर दौड़ने को तैयार…

60 के दशक की बाइक जावा एक बार फिर सड़कों पर दौड़ने को तैयार है। ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

SR Global School