Tuesday , January 22 2019 1:15 AM
Breaking News

2017 में कब्जा हटने के बाद संगठन ने किये आंतरिक ढांचागत बदलाव

आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) सीरिया व इराक में अपनी क्षेत्रीय शाखाओं को दोबारा तैयार कर रहा है। इसके साथ ही यह कयास लगाए जा रहे हैं कि 2017 में कब्जा हटने के बाद संगठन ने आंतरिक ढांचागत बदलाव किए हैं। बीबीसी ने एसआईटीआई के हवाले से कहा, “आईएस ने सीरिया व इराक में दमिश्क, रक्का, किर्कुक व उत्तरी बगदाद जैसे पृथक प्रांत का दर्जा पाए क्षेत्रों के लिए उपयोग किए जाने वाले शब्द ‘विलायह’ के उपयोग को समाप्त कर दिया है। ” इस शब्द का उपयोग अब सीरिया व इराक के बड़े इलाकों के लिए किया जा रहा है।

Image result for 2017 में कब्जा हटने के बाद संगठन ने आंतरिक किये ढांचागत बदलाव

आईएस ने विलायह ऑफ शाम (सीरिया) व विलायह ऑफ इराक शब्दों का उपयोग इससे पहले नहीं किया था। इनका उपयोग क्षेत्रीय पद के लिए किया गया है। ये परिवर्तन संगठन के साप्ताहिक खबर लेटर अल-नबा में 20 जुलाई को किए गए। अरबी भाषा के खबर लेटर में आईएस ने परिवर्तन को लेकर कोई घोषणा नहीं की है।

इसके बाद से सीरिया व इराक में हुए हमलों के लिए विलायह ऑफ शाम या विलायह ऑफ इराक को जिम्मेदार ठहराया जाने लगा। रिपोर्ट के अनुसार, क्षेत्रों की आधिकारिक स्थिति में बदलाव, 2017 में एरिया में हुई पराजय के बाद एक पुनर्गठन के तौर पर देखा जा रहा है। यह अभी स्पष्ट नहीं है कि लीबिया, यमन या सऊदी अरब जैसे राष्ट्रों में ऐसा ही ढांचागत बदलाव हो रहा है या नहीं। संगठन मिस्र में अपनी शाखा को ‘विलाया ऑफ सिनाई’ के नाम से ही बुलाता है व इसे दक्षिण-पूर्व एशिया से जुड़ा हुआ मानता है ।

About Anand Gopal Chaturvedi

Group Editor / CMD Early News Group

Check Also

ममता की महारैली में उमड़ा भारी जनशैलाभ,- हार्दिक पटेल ने लगवाया नारा, “सुभाष चंद्र बोस लड़े थे गोरों से हम लड़ेंगे चोरों से”

फोटो साभार ANI अर्ली न्यूज़/  कोलकाता/ ब्रिगेड मैदान ।तृणमूल कांग्रेस अध्यक्ष ममता बनर्जी के नेतृत्व में आज कोलकाता ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

jewelry shop