Wednesday , November 21 2018 12:54 AM
Breaking News

मॉरिसन ने भावुक संबोधन के दौरान बाल यौन उत्पीड़न के पीड़ितों से मांगी माफी

सोमवार को संसद में अपने भावुक संबोधन के दौरान बाल यौन उत्पीड़न के पीड़ितों से माफी मांगी उन्होंने माना कि गवर्नमेंट दशकों तक अंजाम दिए गए इन जघन्य अपराधों को रोकने में नाकाम रही

Image result for मॉरिसन ने

पूरे राष्ट्र में टीवी पर प्रसारित इस संबोधन में मॉरिसन ने कहा, ‘‘यह ऑस्ट्रेलियाइयों ने ऑस्ट्रेलिया के लोगों के साथ किया शत्रु हमारे बीच है शत्रु हमारे बीच है ’’ उन्होंने कहा, ‘‘एक देश के तौर पर हमने उन्हें निराश किया हमने उन्हें उनके हाल पर छोड़ दिया हमारे लिए यह हमेशा शर्म की बात रहेगी ’’

बेहद भावुक दिख रहे मॉरिसन ने बोला कि बलात्कार की यह घटनाएं धार्मिक  गवर्नमेंट समर्थित संस्थाओं में होती रहीं मॉरिसन ने ‘‘स्कूलों, चर्चों, युवा समूहों, स्काउट समूहों, अनाथालयों, खेल क्लबों  घर-परिवारों में दिन ब दिन, हफ्ता दर हफ्ता, महीना दर महीना, वर्ष दर साल’’ हुई बाल यौन उत्पीड़न की इन घटनाओं के पीड़ितों से बोला – ‘‘हम आपका यकीन करते हैं ’’

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘आज हम उन बच्चों से माफी मांगते हैं जिन्हें हमने निराश किया माफ कर दें जिन माता-पिता के साथ विश्वासघात हुआ  जिन्होंने प्रयत्न किया, माफ कर देंउनसे भी माफी जिन्होंने इस मामले में आवाज तो उठाई, लेकिन उन्हें हमने सुना नहीं ’’ मॉरिसन ने बोला कि वह उन जीवनसाथियों, साझेदारों, पत्नियों, पतियों, बच्चों से भी माफी मांगते हैं जिन्होंने दुष्कर्म, इन घटनाओं को दबाए जाने  इंसाफ की राह में रोड़े अटकाने के विरूद्ध प्रयत्न किया उन्होंने पहले  आज की पीढ़ियों से भी माफी मांगी

प्रधानमंत्री के संबोधन के बाद संसद में जनप्रतिनिधि कुछ देर के लिए मौन खड़े रहे पूरे राष्ट्र में आयोजित आधिकारिक कार्यक्रमों में हजारों पीड़ितों ने इस संबोधन का प्रसारण देखा

About Anand Gopal Chaturvedi

Group Editor / CMD Early News Group

Check Also

 संसार का ये सबसे पहला एक्सक्लूसिव होटल, आपको कर देगा हैरान

संसार का सबसे पहला अंडरग्राउंड होटल शंघाई में खुल गया है। यह होटल अपनी बनावट के साथ ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

jewelry shop