Wednesday , February 20 2019 7:00 PM
Breaking News

भारत ने रचा इतिहास, ऑस्ट्रेलिया में 71 साल में पहली बार जीती टेस्ट सीरीज

नई दिल्ली।  भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया में सिडनी टेस्ट मैच बारिश की वजह से नहीं जीत सकी और उसे इस सीरीज में 2-1 की ऐतिहासिक जीत मिली।  भारतीय टीम ने मैच के तीसरे दिन ही मैच पर अपना शिकंजा कसते हुए मेजबान टीम को बैकफुट पर धकेल दिया था।  टीम इंडिया सीरीज में पहले से ही 2-1 आगे थी और उसने क्रिकेट इतिहास में पहली बार ऑस्ट्रेलिया में किसी टेस्ट सीरीज में 2-1 की बढ़त ली थी।  विराट अपनी इस उपलब्धि को और बड़ी करने की ओर थे, लेकिन मौसम ने ऑस्ट्रेलिया की इज्जत बचा ली।  वहीं विराट सिडनी टेस्ट में जीत हासिल करने से महरूम रह गए।  हालांकि इससे टीम इंडिया की खुशियां कम नहीं हुईं क्योंकि क्रिकेट इतिहास में भारत ने पहली बार ऑस्ट्रेलिया में कोई टेस्ट सीरीज जीती।

पहले टीम इंडिया ने अपनी पहली पारी 7 विकेट के नुकसान पर 622 रनों पर घोषित कर दी।  इसके बाद ऑस्ट्रेलिया की टीम जब बल्लेबाजी करने उतरी तो भारतीय स्पिनर्स पहले रवींद्र जडेजा और उसके बाद कुलदीप यादव ने भारत को मैच में हावी करवा  दिया।  दोनों की ही फिरकी में ऑस्ट्रेलियाई टीम ऐसी फंसी कि तीसरे दिन के दूसरे सत्र तक केवल 236 रन पर 6 विकेट गंवा दिए।  इसके बाद बारिश के साये में चौथे दिन टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया को 300 रनों पर ही समेट कर 322 रन की ली़ड से उसे फॉलोऑन खेलने पर मजबूर किया।  लेकिन केवल 4 ओवर खेल हो सका कि बारिश ने मैच धो दिया और भारत एक और ऐतिहासिक जीत हासिल करने से चूक गया।

सिडनी टेस्ट में चौथे दिन बारिश और खराब रोशनी ने मैचा का रोमांच कम करने की कोशिश की।  इस वजह से दिन में केवल  25.2 ओवरों ओवरों का खेल हो सका।  लेकिन टीम इंडिया ने इतने ही ओवरों में अपनी जीत की उम्मीदें बरकरार रखते हुए ऑस्ट्रेलिया की पहली पारी 300 रनों पर समेट दी और उसे फॉलोऑन खेलने पर मजबूर कर दिया।  चौथे दिन का खेल दूसरे सत्र में ही शुरू हो सका और इस सत्र में केवल 21.2 ओवर में ही भारतीय गेंदबाजों ने ऑस्ट्रेलिया के बाकी बचे 4 विकेट भी निकाल लिए।  मैच की दूसरी पारी में फॉलोऑन को मजबूर हुई ऑस्ट्रेलिया टीम भारत से 322 रन पीछे थी। चौथे दिन दूसरी पारी के चार ओवर के बाद यह अंतर 316 रन रह गया।  चौथे दिन चाय के समय मेजबान टीम के लिए उस्मान ख्वाजा (4) और मार्कस हैरिस (2) नाबाद थे।  इसके बाद बारिश ने अपना खेल दिखा और चौथे दिन का तीसरा सत्र धुलने के बाद पांचवे दिन का पहला सत्र भी बारिश की भेंट चढ़ गया।

इससे पहले टॉस जीतने के बादटीम इंडिया की शुरुआत अच्छी नहीं रही और केएल राहुल दूसरे ओवर में ही आउट हो गए. इसके बाद मयंक अग्रवाल ने एक बार फिर शानदार बल्लेबाजी का प्रदर्शन करते हुए बेहतरीन हाफ सेंचुरी लगाई जबकि दूसरी ओर चेतेश्वर पुजारा अपने मिजाज के मुताबिक बल्लेबाजी करते हुए ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजी को हतोत्साहित करते हुए नजर आए।  दोनों ने 116 रनों की साझेदारी की।  पुजारा एक छोर पर मजबूती से जमे रहे और उन्होंने विराट कोहली (23) के साथ 54 और उपकप्तान अजिंक्य रहाणे (18) के साथ 48 रनों की पार्टरनशिप की।  इसके बाद पुजारा को हनुमा विहारी का साथ मिला और उन्होंने अपना 18वां टेस्ट शतक पूरा किया।  टीम इंडिया ने पहले दिन चार विकेट पर 303 रन बना दिए।

दूसरे दिन पुजारा ने विहारी के साथ 101 रनों की साझेदारी की।  फिर पुजारा और पंत ने मिलकर लंच के बाद टीम इंडिया के 400 रन पूरे किए, लेकिन इसके बाद पुजारा विदेश में अपने पहले दोहरे शतक से चूककर 193 रन के निजी स्कोर पर आउट हो गए। यहां से पंत और जडेजा ने तेजी से रन बनाए और पहले पंत ने अपना शतक पूरा किया और उसके बाद रवींद्र जडेजा ने अपनी हाफ सेंचुरी।  जब टीम इंडिया का 7वां विकेट 622 रन पर गिरा तब कप्तान विराट कोहली ने पारी घोषित कर दी।  पंत 159 रन बनाकर नाबाद लौटे, जबकि जडेजा 81 रनों की पारी खेल कर आउट हुए।

About Anand Gopal Chaturvedi

Group Editor / CMD Early News Group

Check Also

100 घण्टे में जैश के टॉप कमांडर को ढेर किये-सेना

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

jewelry shop