Latest News
राष्ट्रीय

योगी सरकार ने पेश किया 2023-24 के लिए उत्‍तर प्रदेश का बजट

नई दिल्ली। उत्‍तर प्रदेश के वित्त मंत्री सुरेश खन्ना (Suresh Khanna) ने बुधवार को विधानसभा में वित्त वर्ष 2023-24 के लिए राज्‍य का बजट पेश किया. बजट में मूलभूत अवसंरचना के विकास पर ध्‍यान केन्द्रित किए जाने के साथ-साथ किसानों, महिलाओं और युवाओं का भी खास ख्याल रखा गया है. बजट के बाद यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) प्रेस कॉफ्रेंस की और कहा कि देश की सबसे बड़ी आबादी वाला राज्य उत्तरप्रदेश प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के निर्देशन में आगे बढ़ रहा हैं. उन्होंने कहा कि बजट हर बार किसी न किसी थीम पर आधारित रहा है और इस बार बजट स्वावलंबन से सशक्तिकरण को समर्पित था.

2023-24 के बजट में स्वामी विवेकानन्द युवा सशक्तीकरण योजना के पात्र छात्र-छात्राओं को टैबलेट / स्मार्टफोन देने के लिए 3,600 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है. ‘मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना’ के लिए बजट में 1,050 करोड़ रुपये की व्यवस्था प्रस्तावित है.

सुरेश खन्‍ना ने कहा कि नई उत्तर प्रदेश पर्यटन नीति-2022 के अंतर्गत अगले पांच साल में 10 लाख करोड़ रुपये के निवेश एवं 20 हजार रोजगार के अवसरों के सृजन का लक्ष्य निर्धारित किया गया है. बजट में इन्क्यूबेटर्स को बढ़ावा देने तथा स्टार्टअप इकाइयों के लिए शुरुआती पूंजी को 100 करोड़ रुपये की व्यवस्था की गई है। इसके अलावा उत्तर प्रदेश सूचना प्रौद्योगिकी एवं स्टार्टअप नीति के लिए 60 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है.

बजट में ग्रामीण क्षेत्रों में युवा उद्यमियों को एग्रीटेक स्टार्टअप की स्थापना के लिए प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से एग्रीकल्चर एक्सिलरेटर कोष के लिए 20 करोड़ रुपये प्रस्तावित हैं. वृद्धावस्था / किसान पेंशन योजना के लिए 2023-24 के बजट में 7,248 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है. इसके अलावा असंगठित क्षेत्र के कर्मकारों के लिये संचालित “मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना के मद में 100 करोड़ रुपये की व्यवस्था प्रस्तावित है.

वित्‍त मंत्री सुरेश खन्ना ने कहा कि वर्ष 2023-24 के बजट में राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन के अन्तर्गत विभिन्न कार्यक्रमों के संचालन के लिए 12,631 करोड़ रुपये की व्यवस्था प्रस्तावित है.

इसके अलावा बजट में सड़क और सेतु निर्माण के लिए 21,159 करोड़ 62 लाख रुपये और सड़क और सेतु रखरखाव के लिए 6,209 करोड़ 50 लाख रुपये की व्यवस्था प्रस्तावित है. बुन्देलखण्ड एक्सप्रेस-वे के साथ डिफेन्स गलियारा परियोजना के लिए 550 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है. साथ ही गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस वे के दोनों तरफ गोरखपुर में औद्योगिक गलियारा विकसित करने के लिये 200 करोड़ रुपये की व्यवस्था प्रस्तावित है.

Show More

Related Articles

Back to top button