Latest News
China Space Mission: चीन के बेकाबू रॉकेट पर उठ रहे सवालIPL में 14 करोड़ का बिका, ये प्लेयर टीम में मिली एकदम से जगह धोनी से क्या है कनेक्शन? -जानेNews Updates: पिछले 24 घंटे में कोरोना के नए मामलों में 23 प्रतिशत उछालसबसे गर्म शहर में मंगलवार-बुधवार को जमकर बारिश के आसार; मौसम विभाग ने जारी किया डार्क यलो अलर्टशिवपाल ने किया अखिलेश पर हमला, बोले- नेता जी को अपमानित करने वाले का कर रहे समर्थनरणबीर कपूर और आलिया भट्ट के फैन्स का इंतजार हुआ ख़तम, ब्रह्मास्त्र का पहला गाना केसरिया हुआ रिलीज़पाकिस्तान को मिला तिनके का सहारा, विश्व बैंक ने 20 करोड़ डॉलर की दी मंजूरीपीवी सिंधु ने रचा इतिहास, पटखनी देकर जीता ये बड़ा खिताबनई लहरों के लिए तैयार रहना चाहिए; WHO साइंटिस्ट ने दी दुनिया को चेतावनीजल्द होगी यूपी-बिहार में बारिश, मौसम विभाग ने बताया कब मिलेगी गर्मी से राहत
लखनऊ

विपक्ष पर बोला हमला, कहा- हम किसी के पिछलग्गू नहीं, द्रौपदी मुर्मू को समर्थन देंगी मायावती

लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की प्रमुख मायावती ने राष्ट्रपति चुनाव की दौड़ में सबसे आगे दिख रही द्रोपदी मुर्मू (Draupadi Murmu) को समर्थन देने का ऐलान किया है.  यूपी की राजधानी लखनऊ में बसपा मुखिया (BSP Chief) ने शनिवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में इसका ऐलान किया.

BSP चीफ ने कहा, विपक्ष ने राष्ट्रपति प्रत्याशी चुनने के लिए हुई बैठक से बसपा को अलग रखा. शरद पवार ने बैठक में बसपा के लीडर को नहीं बुलाया. ये उनकी सोच को दिखाता है.  राष्ट्रपति प्रत्याशी चुनने के दौरान विपक्ष का षडयंत्र दिखा है.  हम NDA को नहीं, एक आदिवासी के समर्थन में मतदान करेंगे.

बसपा प्रमुख ने कहा कि हमारी पार्टी ने आदिवासी समाज को अपने मूवमेंट का खास हिस्सा मानते हुए द्रौपदी मुर्मू को राष्ट्रपति पद के लिए अपना समर्थन देने का निर्णय लिया है. हमने यह अति महत्वपूर्ण फैसला BJP और NDA के पक्ष या फिर विपक्षी पार्टी के विरोध में नहीं लिया है. आंदोलन को ध्यान में रखते एक आदिवासी समाज की योग्य और कर्मठ महिला को देश की राष्ट्रपति बनाने के लिए यह फैसला लिया है.

प्रेस कॉफ्रेस में विपक्ष पर आरोप लगाते हुए कहा कि बसपा के नेतृत्व को बदनाम करने के लिए विपक्ष कोई मौका नहीं छोड़ रहा है. कांग्रेस और बीजेपी रत्ती भर भी नहीं चाहते हैं कि बाबा साहेब भीम राव अंबेडकर की सोच देश पर लागू हो. उन्होंने कहा कि हम बिना डरे फैसले लेते हैं. मायावती ने कहा, बसपा पिछलग्गू पार्टी नहीं है. पार्टी सर्वजन हिताय और सर्वजन सुखाए पर चलती है.

Show More

Related Articles

Back to top button