Latest News
अशोक चव्हाण बीजेपी में शामिल, अधूरी रह गई पहली इच्छाकिसान बड़े दिल्ली की और, पुलिस ने छोड़े आंसू गैस, बॉर्डर सीलमिथुन चक्रवर्ती के सीने में तेज दर्द, कोलकाता के अस्पताल में भर्तीपाकिस्तान में जनरल मुनीर ने बांटी किसको कितनी सीट, PMNL-PPP-MQM-P गठबंधन सरकारपाकिस्तान चुनाव परिणाम में देरी के बीच आया इमरान खान का एआई विजय भाषणचौधरी चरण सिंह को मिला भारत रत्न, गदगद जयंत चौधरी, बाटे मिठाइयांलाल कृष्ण आडवाणी को मिलेगा भारत रत्न, प्रधानमंत्री मोदी का ऐलानपाकिस्तानियों ने भारतीय नौसेना जिंदाबाद के लगाए नारे, जान बचाने के लिए किया भारत को शुक्रियाBudget 2024: महिलाओं के लिए किया बड़ा ऐलान, इंफ्रा को दी भारी रकम, किसानों-मिडिल क्लास-युवाओं को बजट में मिला क्या?राहुल की सुरक्षा में चूक, कार का शीशा टूटा, अधीर बोले- किसी ने पत्थर मारा होगा; सुप्रिया ने कहा- सुरक्षा घेरे की रस्सी से टूटा शीशा
उत्तराखंड

उत्तराखंड स्थापना दिवस पर गौरव सम्मान 2021 के लिए पांच हस्तियों के नामों की घोषणा ।

देहरादून. इस साल राज्य स्थापना दिवस का मौका तब आ रहा है, जबकि राज्य में आगामी विधानसभा चुनावों को लेकर हलचलें तेज़ हैं.उत्तराखंड गौरव सम्मान 2021 के लिए पांच हस्तियों के नामों की घोषणा कर दी गई है. इन सभी को जल्द ही राज्य सरकार इस सम्मान से नवाज़ेगी. कब और किस कार्यक्रम में ये सम्मान दिए जाएंगे, अभी यह तय नहीं किया गया है लेकिन सोमवार की शाम की गई घोषणा में पांच नामों का ऐलान ज़रूर किया गया.

पूर्व मुख्यमंत्री एनडी तिवारी को मरणोपरांत उत्तराखंड गौरव सम्मान से नवाज़ा जाएगा, तो लोक गायक नरेंद्र नेगी, प्रसिद्ध लेखक रस्किन बॉन्ड का भी नाम सम्मानित होने वालों में शामिल है. इनके साथ ही, पर्यावरणविद, अनिल जोशी और एवरेस्ट बछेंद्री पाल को भी सम्मानित किया जाएगा.

वास्तव में राज्य स्थापना दिवस के मौके पर उत्तराखंड गौरव सम्मान की शुरुआत हुई है. राज्य सरकार जल्द ही एक भव्य कार्यक्रम में इन पांचों व्यक्तित्वों को सम्मानित करने जा रही है. इधर, उत्तराखंड के स्थापना दिवस को लेकर भी सरकार ने रूपरेखा तैयार कर दी है. गांव से लेकर राजधानी में 7 दिनों तक विभिन्न सांस्कृतिक, सामाजिक आयोजन किए जाएंगे. इसी क्रम में उत्तराखंड गौरव सम्मान की घोषणा करते हुए मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि इस पहल के तहत विभिन्न क्षेत्रों के पांच प्रतिष्ठित लोगों को यह पुरस्कार दिया जाएगा.

इसलिए स्थापना दिवस की पूर्व संध्या पर सीएम धामी ने कई मुद्दों पर बातचीत की. देवस्थानम बोर्ड से लेकर उत्तराखंड की राजधानी और उत्तराखंड के विकास पर भी उन्होंने चर्चा की. धामी ने कहा कि उत्तराखंड को ‘आदर्श राज्य’ बनाया जाएगा और अगले चार से पांच सालों में यह लक्ष्य पूरा किया जाएगा.

सीएम धामी ने बातचीत में कहा कि राज्य जब अपना 25वां स्थापना दिवस मनाएगा, तो उसका उल्लेख आदर्श उत्तराखंड के रूप में होगा. गौरतलब है कि इससे पहले अपने दौरे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी अगला दशक उत्तराखंड के नाम होने की बात कही थी. माना जा रहा है कि ये बयान बीजेपी की अगले कुछ सालों के लिए चुनावी रणनीति के ही ​हिस्से हैं.

Show More
[sf id=2 layout=8]

Related Articles

Back to top button