Latest News
अशोक चव्हाण बीजेपी में शामिल, अधूरी रह गई पहली इच्छाकिसान बड़े दिल्ली की और, पुलिस ने छोड़े आंसू गैस, बॉर्डर सीलमिथुन चक्रवर्ती के सीने में तेज दर्द, कोलकाता के अस्पताल में भर्तीपाकिस्तान में जनरल मुनीर ने बांटी किसको कितनी सीट, PMNL-PPP-MQM-P गठबंधन सरकारपाकिस्तान चुनाव परिणाम में देरी के बीच आया इमरान खान का एआई विजय भाषणचौधरी चरण सिंह को मिला भारत रत्न, गदगद जयंत चौधरी, बाटे मिठाइयांलाल कृष्ण आडवाणी को मिलेगा भारत रत्न, प्रधानमंत्री मोदी का ऐलानपाकिस्तानियों ने भारतीय नौसेना जिंदाबाद के लगाए नारे, जान बचाने के लिए किया भारत को शुक्रियाBudget 2024: महिलाओं के लिए किया बड़ा ऐलान, इंफ्रा को दी भारी रकम, किसानों-मिडिल क्लास-युवाओं को बजट में मिला क्या?राहुल की सुरक्षा में चूक, कार का शीशा टूटा, अधीर बोले- किसी ने पत्थर मारा होगा; सुप्रिया ने कहा- सुरक्षा घेरे की रस्सी से टूटा शीशा
अपना शहरराष्ट्रीय

राहुल की सुरक्षा में चूक, कार का शीशा टूटा, अधीर बोले- किसी ने पत्थर मारा होगा; सुप्रिया ने कहा- सुरक्षा घेरे की रस्सी से टूटा शीशा

अर्ली न्यूज़ नेटवर्क।
पश्चिम बंगाल/मालदा। कांग्रेस की भारत जोड़ो न्याय यात्रा आज बिहार से दोबारा पश्चिम बंगाल पहुंची। यहां मालदा में राहुल की कार का शीशा टूट गया। पहले खबर आई कि राहुल की कार पर पत्थरों से हमला किया गया। इसकी जानकारी अधीर रंजन चौधरी ने दी। उन्होंने कहा कि ऐसे ऐसे हमले बर्दाश्त नहीं किए जाएंगे।

इसके कुछ देर बाद कांग्रेस की सोशल मीडिया प्रमुख सुप्रिया श्रीनेत ने कहा कि राहुल पर हमले की खबर गलत है। जब एक महिला राहुल से मिलने के लिए एकदम से आगे आ गईं, तब कार को अचानक रोकना पड़ा। इससे सुरक्षा घेरे में इस्तेमाल किए जाने वाली रस्से से कार की विंडशील्ड टूट गई।

इसके बाद अधीर रंजन ने कहा कि हो सकता है किसी ने कार पर पीछे से पत्थर फेंका हो। पुलिस मामले की जांच कर रही है। जरा सा ध्यान हटने से बहुत कुछ हो सकता है। ये एक छोटी सी घटना है, पर कुछ भी हो सकता था।

कांंग्रेस ने किया जय जवान अभियान का आगाज
इसके पहले बिहार के कटिहार से यात्रा आगे बढ़ी। यहां राहुल गांधी ने देश के उन 1.5 लाख युवाओं को न्याय दिलाने के लिए जय जवान अभियान शुरू किया, जिन्हें रक्षा सेवाओं के लिए चुना गया था, लेकिन अग्निपथ योजना शुरू हो जाने के बाद सेना में नहीं लिया गया। राहुव ने इन युवाओं से वादा किया कि वे उनके साथ हो रहे अन्याय का मुद्दा हर मंच पर उठाएंगे। अग्निपथ योजना के कारण, 2019 और 2022 के बीच भारतीय सेना, वायु सेना और नौसेना के लिए चुने गए लगभग 1.5 लाख उम्मीदवारों को कथित तौर पर शामिल होने से वंचित कर दिया गया था। हमारा जय जवान अभियान उन युवाओं को समर्पित है जिन्होंने इस अन्याय का सामना किया है। उन्होंने कहा, यह इस अन्याय) के खिलाफ न्याय की लड़ाई है।

Show More
[sf id=2 layout=8]

Related Articles

Back to top button