Latest News
अशोक चव्हाण बीजेपी में शामिल, अधूरी रह गई पहली इच्छाकिसान बड़े दिल्ली की और, पुलिस ने छोड़े आंसू गैस, बॉर्डर सीलमिथुन चक्रवर्ती के सीने में तेज दर्द, कोलकाता के अस्पताल में भर्तीपाकिस्तान में जनरल मुनीर ने बांटी किसको कितनी सीट, PMNL-PPP-MQM-P गठबंधन सरकारपाकिस्तान चुनाव परिणाम में देरी के बीच आया इमरान खान का एआई विजय भाषणचौधरी चरण सिंह को मिला भारत रत्न, गदगद जयंत चौधरी, बाटे मिठाइयांलाल कृष्ण आडवाणी को मिलेगा भारत रत्न, प्रधानमंत्री मोदी का ऐलानपाकिस्तानियों ने भारतीय नौसेना जिंदाबाद के लगाए नारे, जान बचाने के लिए किया भारत को शुक्रियाBudget 2024: महिलाओं के लिए किया बड़ा ऐलान, इंफ्रा को दी भारी रकम, किसानों-मिडिल क्लास-युवाओं को बजट में मिला क्या?राहुल की सुरक्षा में चूक, कार का शीशा टूटा, अधीर बोले- किसी ने पत्थर मारा होगा; सुप्रिया ने कहा- सुरक्षा घेरे की रस्सी से टूटा शीशा
उत्तराखंडराष्ट्रीय

देश की राजधानी से ,देवनगरी जाना हुआ बेहद आसान,दिल्ली-देहरादून एक्सप्रेस-वे प्रोजेक्ट का शुभारंभ |

नई दिल्ली : उत्तराखंड के पहाड़ी इलाकों में जाना,आने की सहुलत, आने वाले दिनों में काफी आसान हो जाएगा. रास्ते में ना तो जाम मिलेगा और नहीं आपका ज्यादा समय लगेगा.दिल्ली से महज दो घंटे में आप हरिद्वार तक पहुंचेगे. फिलहाल इस योजना के तहत काम चल रहा है और बताया जा रहा है मार्च 2024 तक दिल्ली से हरिद्वार के बीच दूसरा एक्सप्रेस-वे तैयार हो जाएगा. सड़क एवं परिवहन राजमार्ग मंत्रालय की मंजूरी के बाद नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एनएचएआई) ने इस पर काम करना शुरू कर दिया है.

जानकारी के मुताबिक इसके लिए दिल्ली-देहरादून एक्सप्रेस-वे को हरिद्वार कनेक्टर से जोड़ा जाएगा और सहारनपुर के बाद देहरादून और हरिद्वार जिलों की सीमा से कनेक्टर बनाया जाएगा. छह लेन की कनेक्टर सड़क रुड़की के बाहर उत्तर-पश्चिमी दिशा में गुजरेगी जो मेरठ-देहरादून राष्ट्रीय राजमार्ग को भी जोड़ेगी. यानी हरिद्वार के साथ ही देहरादून जाना भी आसान हो जाएगा. फिलहाल एनएचएआई के अधिकारियों का कहना है कि कनेक्टर खुद एक्सप्रेस-वे का हिस्सा होगा और इसके लिए काम शुरू हो गया है. एनएचएआइ के देहरादून और रुड़की में भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया शुरू कर दी है. अधिकारियों का कहना है कि इस समय हरिद्वार जाने वाले वाहनों का दबाव देहरादून की तुलना में दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे पर ज्यादा है. जब कनेक्टर दिल्ली-देहरादून एक्सप्रेस-वे को हरिद्वार से जोड़ेगा तो दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे पर वाहनों का दबाव तो कम होगा और समय की बचत भी होगी.
दरअसल दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे सिर्फ मेरठ तक ही सिक्स लेन है और इसके बाद आगे चार लेन की नेशनल हाईवे रोड है. सड़क पर ज्यादा दबाव होने के कारण मेरठ से आगे वाहनों की रफ्तार 100 किमी प्रति घंटा से घटकर 60 से 80 किमी प्रति घंटा के बीच रहती है. लिहाजा दिल्ली से हरिद्वार जाने में तीन से चार घंटे का समय लगता है. लेकिन इस नए एक्सप्रेस-वे को जोड़ने वाला हरिद्वार कनेक्टर तैयार होने के बाद डेढ़ से दो घंटे की बचत होगी.
फिलहाल देहरादून एक्सप्रेस-वे का निर्माण कार्य चल रहा है और इसके लिए पहले दो चरणों का टेंडर पहले ही हो चुका है. इसके तहत अक्षरधाम से यूपी बॉर्डर तक पहले चरण में और दूसरे चरण में यूपी बॉर्डर से मविकलां (बागपत-गाजियाबाद) बॉर्डर तक टेंडर का पूरा हो चुका है और आगे के चरणों में टेंडर प्रक्रिया अंतिम चरण में है. बताया या जा रहा है कि जल्द ही उनमें भी निर्माण कार्य शुरू होना है.
दिल्ली-देहरादून एक्सप्रेस-वे के प्रोजेक्ट डायरेक्टर पंकज मौर्य का कहना है कि दिल्ली-देहरादून एक्सप्रेस को जोड़ने वाला यह कनेक्टर 45 किमी लंबा होगा. कनेक्टर का काम समय पर पूरा हो गया है. इसके लिए जमीन अधिग्रहण और टेंडर की प्रक्रिया चलाई जा रही है. उनका कहना है कि 70 फीसद जमीन के अधिग्रहण का काम पूरा होने के बाद निर्माण कार्य शुरू हो जाएगा

Show More
[sf id=2 layout=8]

Related Articles

Back to top button